Failure-Stories

एक वक्त था जब बॉलीवुड, खेल जगत, कॉर्पोरेट लॉबी तक में विजय माल्या छाया रहता था
रतन टाटा ने सन २००८ में ₹ 1 लाख रूपये में एक कार को बनाने और बेचने की अपनी महत्व
2000 के दशक में, नोकिया मोबाइल फोन उद्योग में सबसे बड़ा बाजार शेयरधारक बन गया। ब