दरिद्रतानाशक मंत्र

वैसे दरिद्रता नाश करने के लिए कई मंत्र और स्त्रोत्र शास्त्र- पुरानों में मौजूद हैं लेकिन मेरे हिसाब से जो सबसे प्रशिद्ध और प्रभावी है वो है कनक धारा स्त्रोत्र:

इसकी रचना आदि गुरु शंकराचार्य ने की थी।

शंकराचार्य द्वारा इस स्त्रोत्र की रचना के पीछे एक कहानी प्रचलित हैं जो इस प्रकार हैं:

एकबार शंकराचार्य भिक्षाटन करते हुए एक गरीब बूढ़ी औरत के द्वार पर पहुंचे। वो बूढ़ी औरत शंकराचार्य को द्वार पर देखकर भिक्षा लाने कमरे के अंदर गई। लेकिन ये क्या? उसे कमरे में कुछ भी नहीं मिला। पूरे घर में ढूँढने के बाद उसे मुश्किल से एक सूखा आंवला मिला। वो शंकराचार्य को खाली हाथ वापस नहीं करना चाहती थी। दुखी मन से वो उस सूखे आवले को लेकर आई और शंकराचार्य के कटोरे में दाल दी। ऐसा करते वक्त उसे आत्मग्लानि भी महसूस हो रही थी और अपने गरीबी पर उसके आंखो झर-झर आंशु निकल रहे थे। शंकराचार्य को समझते देर नहीं लगा। उन्हे उस औरत पर दया आयी। उन्होने उसी वक्त कनकधरा स्त्रोत्र की रचना कर पाठ की। कनक का अर्थ होता है सोना। कहते है उसी वक्त उस महिला का घर धन-धान्य से पूर्ण हो गया।


कनकधारा स्त्रोत्र

अंगहरे पुलकभूषण माश्रयन्ती भृगांगनैव मुकुलाभरणं तमालम।

अंगीकृताखिल विभूतिरपांगलीला मांगल्यदास्तु मम मंगलदेवताया:।।1।।

मुग्ध्या मुहुर्विदधती वदनै मुरारै: प्रेमत्रपाप्रणिहितानि गतागतानि।

माला दृशोर्मधुकर विमहोत्पले या सा मै श्रियं दिशतु सागर सम्भवाया:।।2।।

विश्वामरेन्द्रपदविभ्रमदानदक्षमानन्द हेतु रधिकं मधुविद्विषोपि।

ईषन्निषीदतु मयि क्षणमीक्षणार्द्धमिन्दोवरोदर सहोदरमिन्दिराय:।।3।।

आमीलिताक्षमधिगम्य मुदा मुकुन्दमानन्दकन्दम निमेषमनंगतन्त्रम्।

आकेकर स्थित कनी निकपक्ष्म नेत्रं भूत्यै भवेन्मम भुजंगरायांगनाया:।।4।।

बाह्यन्तरे मधुजित: श्रितकौस्तुभै या हारावलीव हरि‍नीलमयी विभाति।

कामप्रदा भगवतो पि कटाक्षमाला कल्याण भावहतु मे कमलालयाया:।।5।।

कालाम्बुदालिललितोरसि कैटभारेर्धाराधरे स्फुरति या तडिदंगनेव्।

मातु: समस्त जगतां महनीय मूर्तिभद्राणि मे दिशतु भार्गवनन्दनाया:।।6।।

प्राप्तं पदं प्रथमत: किल यत्प्रभावान्मांगल्य भाजि: मधुमायनि मन्मथेन।

मध्यापतेत दिह मन्थर मीक्षणार्द्ध मन्दालसं च मकरालयकन्यकाया:।।7।।

दद्याद दयानुपवनो द्रविणाम्बुधाराम स्मिभकिंचन विहंग शिशौ विषण्ण।

दुष्कर्मधर्ममपनीय चिराय दूरं नारायण प्रणयिनी नयनाम्बुवाह:।।8।।

इष्टा विशिष्टमतयो पि यथा ययार्द्रदृष्टया त्रिविष्टपपदं सुलभं लभंते।

दृष्टि: प्रहूष्टकमलोदर दीप्ति रिष्टां पुष्टि कृषीष्ट मम पुष्कर विष्टराया:।।9।।

गीर्देवतैति गरुड़ध्वज भामिनीति शाकम्भरीति शशिशेखर वल्लभेति।

सृष्टि स्थिति प्रलय केलिषु संस्थितायै तस्यै ‍नमस्त्रि भुवनैक गुरोस्तरूण्यै ।।10।।

श्रुत्यै नमोस्तु शुभकर्मफल प्रसूत्यै रत्यै नमोस्तु रमणीय गुणार्णवायै।

शक्तयै नमोस्तु शतपात्र निकेतानायै पुष्टयै नमोस्तु पुरूषोत्तम वल्लभायै।।11।।

नमोस्तु नालीक निभाननायै नमोस्तु दुग्धौदधि जन्म भूत्यै ।

नमोस्तु सोमामृत सोदरायै नमोस्तु नारायण वल्लभायै।।12।।

सम्पतकराणि सकलेन्द्रिय नन्दानि साम्राज्यदान विभवानि सरोरूहाक्षि।

त्व द्वंदनानि दुरिता हरणाद्यतानि मामेव मातर निशं कलयन्तु नान्यम्।।13।।

यत्कटाक्षसमुपासना विधि: सेवकस्य कलार्थ सम्पद:।

संतनोति वचनांगमानसंसत्वां मुरारिहृदयेश्वरीं भजे।।14।।

सरसिजनिलये सरोज हस्ते धवलमांशुकगन्धमाल्यशोभे।

भगवति हरिवल्लभे मनोज्ञे त्रिभुवनभूतिकरि प्रसीद मह्यम्।।15।।

दग्धिस्तिमि: कनकुंभमुखा व सृष्टिस्वर्वाहिनी विमलचारू जल प्लुतांगीम।

प्रातर्नमामि जगतां जननीमशेष लोकाधिनाथ गृहिणी ममृताब्धिपुत्रीम्।।16।।

कमले कमलाक्षवल्लभे त्वं करुणापूरतरां गतैरपाड़ंगै:।

अवलोकय माम किंचनानां प्रथमं पात्रमकृत्रिमं दयाया : ।।17।।

स्तुवन्ति ये स्तुतिभिर भूमिरन्वहं त्रयीमयीं त्रिभुवनमातरं रमाम्।

गुणाधिका गुरुतरभाग्यभागिनो भवन्ति ते बुधभाविताया:।।18।।

पाठ विधान

एक कनकधारा यंत्र पूजा स्थल पर स्थापित करें। नित्य धूप-दीप आदि से इसकी पूजा करें और कनकधारा स्त्रोत्र का एकबार पाठ करे।

यह काम सुबह-शाम कभी भी किया जा सकता है।



धन प्राप्ति के उपाय

धन प्राप्ति के लिए यहाँ अनेक उपाय
Read More...

100 Business Ideas

To start business and get better profit, you should have a profitable and in demand busi
Read More...

व्यवसायी - उद्योगपति - उद्यमी में अंतर

Definition of Industrialist in Hindiव्यवसायी(Industrialist) वे व्
Read More...

गूगल ऐडसेंस से कमाई

Income from Google Adsense in HindiGoogle AdSense गूगल द्वारा चल
Read More...

Starting online business without any investment

Are  you curious - Where I can start an online Business without investing any pe
Read More...

डेव रामसे की बेहतरीन वित्तीय योजना

डेव रामसे की बेहतरीन वित्तीय योजन
Read More...

कर्ज से मुक्ति के सरल उपाय

Astrological remedies to get rid of debt in hindi मनुष्य जीवन मे
Read More...

What are the genuine sources to earn online?

Here is list of various sources from where you can earn online BloggingWriting Paid Ar
Read More...

गांव में रहकर अच्छी कमाई वाले बिज़नेस

अनेक ऐसे बिज़नेस हैं जिनके द्वारा आ
Read More...

गोल्ड फंड क्या होते हैं

गोल्ड फंड वे फंड हैं जिसमे हम गोल्
Read More...