क्या है मनी इन्वेस्टमेंट के लिए उत्तम विकल्प

सबसे पहले हम जानेंगे सबसे आसान और सही तरीका जो आगे भविष्य में आपके धन को दोगुना बढ़ा देगा। यदि आपको अपने धन में बढ़ोतरी चाहिए तो आपको सावधि जमा (Fixed Deposit ) करना चाहिए। इससे पहले आपको इसके बारे में पूर्णतया जानकारी होनी चाहिए की Fixed Deposit क्या है ? इसमें निवेश कैसे करे? इसमें ब्याज कितना मिलता है? इसके फायदे क्या होंगे? इन सभी सवालों के जवाब आपको पता होना चाहिए और इससे संबंधित सभी जानकारी। 
 
*सबसे पहले हम ये जानेंगे की Fixed Deposit Account क्या होता है? तथा इसके फायदे :-
 
यह बहुत आसान है इसमें पैसे निवेश करना और भी सरल है। फिक्स्ड डिपाजिट मतलब निश्चित धन राशि को निश्चित वक़्त के लिए निवेश करना। इसमें हमे अच्छा ब्याज भी मिलता है।फिक्स्ड डिपाजिट पर सेविंग अकाउंट की तुलना में तकरीबन दोगुना ब्याज ज़्यादा मिलता है। इस वजह से यह छोटी और लंबी, दोनों अवधि के निवेशकों के लिए यह बेहतरीन विकल्प है। 
हमारे देश में बैंकों की फिक्स्ड डिपाजिट (Fixed Deposit) स्कीम ब्याज कमाने का सबसे लोकप्रिय तरीका है। एफडी(FD) सात दिन से लेकर 10 साल तक की अवधि के लिए किया जा सकता है। 
पिछले कुछ सालों में फिक्स्ड डिपाजिट (Fixed Deposit) की लोकप्रियता बढ़ी है। क्योंकि पूँजी की सुरक्षा और निश्चित रिटर्न की वजह से अधिक लोग फिक्स्ड डिपाजिट(fixed Deposit) में निवेश कर रहे हैं।  हर बैंक फिक्स्ड डिपाजिट (Fixed Deposit) की सुविधा देता है। कई गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां (NBFC) भी ग्राहकों को फिक्स्ड डिपाजिट की सुविधा देती हैं। 
 
*फिक्स्ड डिपाजिट (Fixed Deposit) से मिलने वाला वास्तविक रिटर्न क्या है?
 
आपके फिक्स्ड डिपाजिट (Fixed Deposit) पर बैंक या NBFC जो ब्याज देते हैं, वही आपका वास्तविक रिटर्न है। आप अपनी जरूरत और बैंक द्वारा दिए जा रहे ब्याज का हिसाब लगाकर फिक्स्ड डिपाजिट(fixed Deposit) में निवेश कर सकते हैं। 
इसके साथ ही आप ब्याज की निकासी की अवधि भी तय कर सकते हैं।आपको ब्याज हर महीने, तिमाही, छमाही, सालाना या फिक्स्ड डिपाजिट(fixed Deposit) परिपक़्व होने के बाद चाहिए, यह फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश करते वक्त ही चुना जा सकता है। 
समझदारी की बात यह है कि फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश करते वक्त आपको सिर्फ ब्याज दरों के बारे में ही नहीं सोचना चाहिए, आपको इस मामले में तरलता का भी ध्यान रखने की जरूरत है। जिस समय आपको रकम की जरूरत है, उस समय आपको फिक्स्ड डिपाजिट भुनाने में दिक्कत नहीं हो। 
 
फिक्स्ड डिपाजिट से अधिक से अधिक ब्याज कमाने के लिए जरूरी है कि आप सही समय का ध्यान रखें। सही समय से मतलब सिर्फ फिक्स्ड डिपाजिट की अवधि से नहीं है, बल्कि अलग-अलग मैच्योरिटी अवधि में रिटर्न की सही गणना कर आप अधिकतम ब्याज कमाने में सफल हो सकते हैं। 
 
*फिक्स्ड डिपाजिट में बेहतर रिटर्न कैसे मिलेगा?
 
 फिक्स्ड डिपाजिट में आप लंबी अवधि में बेहतर रिटर्न कमाने के हिसाब से एक तकनीक अपना सकते हैं। फिक्स्ड डिपाजिट वास्तव में लंबी अवधि के लिए किया जाता है, बैंक कई तरह के चार्ज लगाकर यह सुनिश्चित करते हैं कि आपने जिस अवधि के लिए फिक्स्ड डिपाजिट किया है, उससे पहले आप रकम की निकासी नहीं करें। फिक्स्ड डिपाजिट से अधिक रिटर्न कमाने का एक तरीका अपने निवेश को कई हिस्से में बांट कर उसे अलग-अलग मैच्योरिटी अवधि के हिसाब से निवेश करना भी है। इसे लैडरिंग कहते हैं। 
 
*क्या है लैडरिंग?
 
 इससे सुविधा यह होगी कि एक नियमित अंतराल पर आपकी डिपाजिट मैच्योर होती रहेगी और आपको मिलने वाला रिटर्न बढ़ जायेगा। इसे एक उदाहरण की मदद से आप अच्छे से समझ सकते है।जैसे कि आपको पांच लाख रुपये फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश करना है, इस पर आपको 9 फीसदी सालाना ब्याज मिल रहा है। आप एक लाख रुपये का निवेश एक साल के लिए कर दीजिये। इसके बाद बची रकम में से एक लाख रुपये का निवेश दो साल के लिए कीजिये। इसके बाद बची रकम में से एक लाख रुपये के निवेश तीन साल के लिए, फिर एक लाख का निवेश चार साल के लिए और आखिरी एक लाख रुपये का फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश पांच साल के लिए कर दीजिये। इसका मतलब यह है कि आपने पांच लाख रुपये को पांच हिस्से में बांट कर उसे पांच अलग-अवधि के फिक्स्ड डिपाजिट में डाल दिया है। 
 
अब एक साल बाद जब आपका फिक्सड डिपाजिट मैच्योर होगा आपको कुल 1.09 लाख रुपये की रकम वापस मिलेगी। इसके बाद अगर आप इस रकम को फिर से पांच साल के फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश कर दें। हो सकता है कि इस समय बैंक आपको FD पर 10% ब्याज ऑफर करें। 
इसी तरह आपको दूसरे साल मैच्योर होने वाली फिक्स्ड डिपाजिट को भी भुनाकर अगले पांच के लिए निवेश कर देना है। 
इस कदम से एक तरफ जहां आप यह सुनिश्चित कर सकेंगे कि आपके हाथ में जरूरत के हिसाब से पैसे आते रहें, वहीं आपको बेहतर दर पर ब्याज कमाने में भी मदद मिलेगी। इसका एक और बड़ा फायदा यह है कि अगर ब्याज दर में वृद्धि होती है तो आप हमेशा उसका लाभ उठाने की स्थिति में रहेंगे। 



Post Comments:

Name:


Comments:


धन प्राप्ति के उपाय

धन प्राप्ति के लिए यहाँ अनेक उपाय
Read More...

100 Business Ideas

To start business and get better profit, you should have a profitable and in demand busi
Read More...

गूगल ऐडसेंस से कमाई

Income from Google Adsense in HindiGoogle AdSense गूगल द्वारा चल
Read More...

Starting online business without any investment

Are  you curious - Where I can start an online Business without investing any pe
Read More...

व्यवसायी - उद्योगपति - उद्यमी में अंतर

Definition of Industrialist in Hindiव्यवसायी(Industrialist) वे व्
Read More...

डेव रामसे की बेहतरीन वित्तीय योजना

डेव रामसे की बेहतरीन वित्तीय योजन
Read More...

गांव में रहकर अच्छी कमाई वाले बिज़नेस

अनेक ऐसे बिज़नेस हैं जिनके द्वारा आ
Read More...

कर्ज से मुक्ति के सरल उपाय

Astrological remedies to get rid of debt in hindi मनुष्य जीवन मे
Read More...

What are the genuine sources to earn online?

Here is list of various sources from where you can earn online BloggingWriting Paid Ar
Read More...

गोल्ड फंड क्या होते हैं

गोल्ड फंड वे फंड हैं जिसमे हम गोल्
Read More...